Monday, 24 September 2012

भाड में जाये सेना - खांग्रेस


कारगिल युद्ध में पाक अधिकृत तोलोलिंग पहाड़ी की चोटी पर पहला तिरंगा फहराने वाले महावीर चक्र विजेता कमांडो दीगेंद्र कुमार उर्फ ‘कोबरा’ ने देश के लिए पाकिस्तानियो से लड़ते हुवे ६ गोलिया खाई लेकिन इस ज़बाज़ को नेताओ ने हरा दिया. देश का दुर्भाग्य है कि क्रिकेट में 6 छक्के मारो तो 6 करोड़ रुपए का इनाम मिलता है, 

लेकिन जान हथेली पर रखकर देश की रक्षा करने वाले फौजी को 6 गोलियां भी लग जाए तो सरकार 6 हजार रुपए तक नहीं देती है। महावीर चक्र विजेता को सरकार प्रति माह केवल 5 हजार रु.देती है, जबकि आतंकी अफजल और कसाब पर 20-20 हजार रु. खर्च कर रही है।

आतंकवादीयों को पेंशन