Friday, 19 October 2012

स्वदेशी दीपावली


दीपावली मानने के स्वदेशी तरीके को अपनाकर आप कई घरों को रोशन कर सकते हैं  ...तो यह संकल्प लें ..और दीपावली मनाएं | आज हर स्तर पर विदेशी कंपनियों के माल से लादा जा रहा है उसे  असहयोग और स्वदेशी की भावना से बचाने का प्रयत्न करें  आज के संकल्प के बारे में केवल इतना कहना है की अगर आपको भगवान की मूर्ति जो विदेश में न जाने किस विधि और वस्तु से बनी हो अगर मुफ्त में भी मिले तो कृपया न लें  हमारे कुम्हार भाइयो को समर्थन दें और अगर मूल्य थोडा ज्यादा भी हो तो केवल उन्ही के द्वारा बनायीं गयी मूर्ति लें | हमारे देश के कुटीर उद्योग इस से सुरक्षित रहेंगे और देश का पैसा देश में रहेगा और साथ ही आपकी पूजा पवित्र और सफल रहेगी |

from - BST Mailing List