Sunday, 9 June 2013

हम सब ओजोन लेयर को तोड रहे है ।

दिल्ली की गर्मी के आगे जब घुटने टेक दिये तब मैने २ दिन पहले AC  खरीदा । आपको चित्र में उसका मोडल नंबर दे रखा है । इसमें आप साफ देख सकते है की इसमें रेफ्रिज्रेन्ट R22 उपयोग किया गया है,

R22 को साइंस की भाषा में क्लोरोफ्लोरोमिथेन कहते है । ]विकीपिडिया पर इसके बारे में पढे ।

http://en.wikipedia.org/wiki/Chlorodifluoromethane

Chlorodifluoromethane or difluoromonochloromethane is a hydrochlorofluorocarbon (HCFC). This colorless gas is better known as HCFC-22, or R-22. It is commonly used as a propellant and refrigerant. These applications are being phased out in developed countries due to the compound's ozone depletion potential (ODP) and high global warming potential (GWP), although global use of R-22 continues to increase because of high demand in developing countries.

इसका मतलब ये है की R22 और उसके जैसी अन्य गैस ओजोन लेयर को नुकसान पहुँचा रही है, दिन ब दिन इसका उपयोग बड रहा है । आपके AC (ऐसी) और फ्रिज में टंडा करने के लिये यही गैस इस्तेमाल की जाती है ।

इसका मतलब ये है की हम सब अपनी ओजोन लेयर को नुकसान पहँचा रहे है ।
अब इससे निकलने का रास्ता क्या है । जाहिर है एक अकेला तो कुछ नही कर सकता है, इसके लिये हम सरकार पर दबाव बनाना चाहिये ।

नेचुरल रेफ्रिज्रेन्ट

सरकार को कानून बना कर नेचुरल रेफ्रिज्रेन्ट को बढावा देना चाहिये ।
  • पानी -R718
  • हवा - R729
  • कार्बन डाइअाक्साइड - R744
  • अमोनिया - R717
  • R290, R600a
आप इनके बारे में यहाँ से पता कर सकते है ।
http://www.refrigerantsnaturally.com/natural-refrigerants/about-natural-refrigerants.htm

कुछ भारतीय कंपनियाँ जैसे गोदरेज R290 के AC (ऐसी) बनाने लग गई है, ये हमारे लिये अच्छी बात है ।



--
┌─────────────────────────┐
│  नरेन्द्र सिसोदिया
│  स्वदेशी प्रचारक, नई दिल्ली
│  http://narendrasisodiya.com
└─────────────────────────┘